दो मानव मस्तिष्कों के बीच संचार संपर्क टेलीपैथि को वैज्ञानिकों ने किया संभव

वाशिंगटन विश्वविद्यालय (यूएसए) और मेलन विश्विद्यालय के वैज्ञानिकों ने दुनिया का पहला नेटवर्क बनाया जो टेलीपैथिक सिग्नल के प्रसारण के लिए तीन पार्टियों को एकजुट करता है।

शोधकर्ताओं ने एक विशेष ब्रेननेट न्यूरल नेटवर्क विकसित किया है जिसका मुख्य कार्य एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में विद्युत आवेगों का हस्तांतरण है, जिससे आप मस्तिष्क से कुछ संकेतों को स्थानांतरित कर सकते हैं।

वैचारिक संकेतो के हस्तांतरण के लिए ईईजी और डिकोडर ट्रांससेब्रब्रल चुंबकीय उत्तेजना का उपकरण होता है।

टेट्रिस एक प्रकार का वीडियो गेम का प्रयोग उदाहरण की समस्या के रूप में किया गया था। इस वीडियो गेम में कई प्रकार के खांचे आते है जिन्हें निचली स्क्रीन में उनकी सही जगह लगाना पड़ता है जंहा वो फिट बैठ जाये।

इस वीडियो गेम में दो लोग अपना निर्णय देखते हैं, लेकिन कार्य नहीं कर सकते हैं। ऐसी स्थितियां उन्हें तीसरे व्यक्ति के साथ बातचीत करने के लिए प्रेरित करती हैं जो कार्य कर सकता है लेकिन कोई समाधान नहीं देखता है। एक उदाहरण के रूप में आप अन्य खेलों का उपयोग कर सकते हैं इस बात को प्रोफेसर राजेश राव ने समझाया।

मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के मुताबिक, भौतिकविदों और न्यूरोसाइस्टिस्टों ने ऐसे टूल विकसित करने में कुछ साल लगे हैं जो आपको कुछ विचारों का अनुभव करने और उनके बारे में जानकारी संचारित करने की अनुमति देते हैं।

टेलीपैथिक नेटवर्क के संचालन का प्रदर्शन करने के लिए शोधकर्ताओं ने स्वयंसेवकों को तीन असामान्य कार्य दिया जिसमें कुछ शर्तों का पालन करते हुए एक गेम खेलना था।

पूरे खेल मैदान के सामने तीन में से दो को देखा को पूरा गेम स्क्रीन देखने की इजाजत थी जिससे वो निर्णय ले सके कि गेम किस प्रकार खेलना है। तीसरे व्यक्ति ने स्क्रीन के सिर्फ ऊपरी हिस्से को ही देखा लेकिन निचले स्क्रीन को नहीं जहां उसे गिरना चाहिए। तदनुसार, आपको वस्तु के साथ क्या करने की ज़रूरत है, यानी इसे घुमाएं या नहीं, यह निर्णय दो अन्य व्यक्तियों से आने वाले संकेतों के आधार पर किया गया था।

हालांकि यह तकनीक अभी अपनी शुरुआती अवस्था में है और अभी इसमें काफी काम किया जाना संभव है। उम्मीद है यह तकनीक विकलांगो के लिए एक नई उम्मीद के रूप में जल्द ही विकसित होगी और इसके नए उपयोग भी सामने आएंगे।

Scientist make possible Telepathy between two human minds.
मानव मष्तिस्को के बीच संचार संपर्क टेलीपैथी

इससे पहले टेस्ला और स्पेसएक्स के संस्थापक एलन मस्क ने बार-बार मानव मस्तिष्क और कंप्यूटर के बीच जानकारी का आदान-प्रदान करने के लिए एक इंटरफेस बनाने की योजना की घोषणा की है।

One thought on “दो मानव मस्तिष्कों के बीच संचार संपर्क टेलीपैथि को वैज्ञानिकों ने किया संभव

Leave a Reply