मोबाइल फोन का रेडिएशन क्या है सबसे ज्यादा रेडिएशन उत्सर्जित करने वाले स्मार्टफोन

मोबाइल फोन का रेडिएशन एक ऐसा मुद्दा है जिससे हम सभी अंजान है या फिर ध्यान नहीं देते है. आज इस पर कहीं ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है क्योकि मोबाइल हमारी दिनचर्या का एक अभिन्न हिस्सा बन गए है. हम अपने मोबाइल से थोड़ी देर भी दूर नहीं रह सकते है। अगर हम सो रहे होते है तो हमारे सिरहाने रखा होता है और अगर हम कहीं यात्रा कर रहे होते है तो हमारे हाथों में. हम काम कर रहे होते है तो जेब में। हम कभी ध्यान ही नहीं देते कि कहीं ये मोबाइल फोन का रेडिएशन हमें नुकसान तो नहीं पहुंचा रहीं हैं।

आजकल के कई स्मार्टफोन मानक स्तर से कहीं ज्यादा रेडिएशन पैदा करते है. इसके कारण जाने अनजाने हमारे स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है जो हमें पता नहीं चलता। मोबाइल फोन के रेडिएशन से बचाव तभी होगा जब हमें इसका मानक स्तर पता होगा. मोबाइल फोन का रेडिएशन लेवल कैसे जाने के लिए पढ़े यह पोस्ट.

स्मार्टफोन के रेडिएशन को नापने का मानक SAR यानि Standrad Absorption Rate है. यह तब मापा जाता है जब आप अपने कान के पास फोन का लगाकर कॉल करते है। भारत में एसएआर का मानक स्तर 1.6 वॉट प्रति किलो है पर जर्मनी में मानक स्तर 0.6 वॉट प्रति किलो है। जर्मनी की एक संस्था जिसका नाम German Certification for Environmental Friendiness केवल 0.6 वॉट प्रति किलो से कम रेडिएशन पैदा करने वाले मोबाइल ही प्रमाणित करती है।

जर्मनी की एक संस्था German Fedral Office for Radiation Protection ने एक सूची जारी को है जिसमें पंद्रह ऐसे मोबाइल है जो सबसे ज्यादा रेडिएशन पैदा करते है। इनमें कई नए और पुराने स्मार्टफोन भी है जिसमें सवसे ऊपर शाओमी का Mi A1 है। इसके अलावा इस सूची में आईफोन 7 और आईफोन 8 भी है। इस सूची में अधिकतर फोन चाइनीज फोन निर्माता कंपनियों के है।

The phones emitting the most radiations, सबसे ज्यादा रेडिएशन उत्सर्जित करने वाले स्मार्टफोन, मोबाइल फोन का रेडिएशन लेवल कैसे जाने, मोबाइल फोन के रेडिएशन से कैसे बचाव करे,
सबसे ज्यादा रेडिएशन उत्सर्जित करने वाले स्मार्टफोन

Leave a Reply